Twitter will label fake news

Twitter will label fake news

             टि्वरटर करेगा फेक न्यूज़ की लेबलिंग

 

ट्विटर जल्दी गलत सूचनाओं पर रोकथाम के लिए एक योजना शुरू करने जा रहा है। हाल में भ्रामक सूचनाओं के फैलाने से कई बार लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा है।सर्वे में यह भी सामने आया है कि ट्विटर पर रियल न्यूज़ से भी तेजी से फेक न्यूज़ वायरल होती है। इन्हीं समस्याओं से निपटने की दिशा में टि्वटर मेनिपुलेटेड मीडिया को चिन्हित करने के लिए Three test योजना को लागू करेगा। टिवटर डॉक्टर्ड अथवा मेनियुलेटेड फोटो एवं वीडियोज को चिन्हित करेगा, जिसे यूजर्स को पता चल सके कि इस फोटो अथवा वीडियो से छेड़छाड़ की गई है तथा भविष्य में भी ऐसे अकाउंट से सावधान रहें।ट्विटर ऐसे मीडिया को जनसुरक्षा को प्रभावित करने अथवा नुकसान पहुंचाने वाले के लेवल के साथ यूजर्स के सामने उपलब्ध करेगा। ट्विटर की इस योजना में हानि की परिभाषा शारीरिक नुकसान से परे हैं। इसमें किसी व्यक्ति अथवा समूह की भौतिक सुरक्षा तथा दंगों स को हानि की श्रेणी में रखा गया है।

किसी व्यक्ति की गोपनीयता को सार्वजनिक करना तथा किसी व्यक्ति या समूह के अपराधिक घटनाओं में भाग लेने को भी हानि की श्रेणी में रखा गया है। ट्विटर Three test योजना के द्वारा ही तय करेगा कि वह किस प्रकार मेनिपुलेटेड मीडिया के खिलाफ कार्रवाई करेगा। इस ट्विटर Three test योजना योजना में ट्विटर सबसे पहले यह जांच करेगा की डेटा आधिकारिक है। अथवा इस में हेरफेर की गई है। दूसरे चरण में टि्वटर यह जांच करता है कीक्या डेटा को गलत तरीके से फैलाया जा रहा है। और तीसरे और अंतिम चरण में ट्विटर या आकलन करता है कि यह डेटा किसी व्यक्ति अथवा समाज को किस हद तक नुकसान पहुंचा सकता है। ट्विटर ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर लगातार फैल रहे गलत सूचनाओं के मद्देनजर यह फैसला लिया है।

ट्विटर ने पिछले माह इस योजना की जानकारी एक ब्लॉगपोस्ट के माध्यम से साझा की। ट्विटर ने बताया कि इस योजना का प्रारंभिक Draft बीते वर्ष नवंबर में ही तैयार हो गया था।तथा इसे लागू करने से पहले यूजर्स से feedback भी लिया गया था। इस नई योजना के feedback के लिए #Twitter policy feedback भी जारी किया था। जिसके माध्यम से यूजर्स ने इस नए policy को लेकर अपना feedback दिया है।

 

नोट :— यह भी बात सही है कि आजकल सोशल मीडिया पर गलत सूचनाओं के माध्यम से लोगों के अंदर नफरत फैलाई जा रही है और लोग उसके शिकार भी हो रहे हैं। इसलिए सोशल मीडिया को इन सब चीजों पर रोक लगानी चाहिए।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *