Great career in the stock market

Great career in the stock market ( स्टॉक मार्केट में शानदार कैरियर)

 

अर्थव्यवस्था में बेहतरी के संकेत को में स्टॉक मार्केट की विशेष अहमियत है। बीते दो दशकों में स्टॉक मार्केट ने कई ऊंचाइयां हासिल की है। शुरुआती दौर में भारतीय वित्त बाजार में लोगों की भागीदारी सीमित थी। स्टॉक मार्केट में निवेश से जुड़ी सर्विस देने वाली कंपनियां बहुत कम थी। साल 2008 के संकट के बाद स्टॉक मार्केट का तेजी से विस्तार हुआ। आज के दौर में ट्रेडिंग और निवेश के लिए कई सहूलियतें मौजूद हैं।

इस क्षेत्र में कैरियर की बेहतरीन संभावनाओं के बावजूद इस में आने वाले युवाओं की संख्या बहुत कम होती है। फाइनेंशियल मार्केट में प्रशिक्षित पेशेवरों की मांग बीते एक दशक से बनी हुई है। अच्छे भविष्य की तलाश में लगे युवाओं के लिए यहां स्टॉक ट्रेडर्स लेकर वेंचर कैपिटल एनालिस्ट तक कई स्पेशलाइज्ड करियर विकल्प है।भारत में वित्त बाजार उभर रहा है। जिसके लिए भविष्य में विभिन्न स्तरों पर मौके बनेंगे। वर्तमान में इस क्षेत्र में टैलेंट पूल के पास स्पेशलाइजेशन नहीं है और ना ही कैपिटल मार्केट की जरूरतों के मुताबिक पर्याप्त रुझान ही है।

 

स्टॉक मार्केट में संभावनाएं

स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग के लिए सिक्योरिटीज, कमोडिटी और फाइनेंशियल सर्विस डोमेन की जानकारी आवश्यक है। इन प्रोफेशनल के लिए ब्रोकरेज हाउसेस, इन्वेस्टमेंट कंपनियां, रिटायरमेंट फंड और अन्य प्रकार की फाइनेंशियल कंपनियों में कैरियर बनाने के मौके होते हैं।इसके लिए एकाग्रता विश्लेषणात्मक क्षमता और बेहतर कम्युनिकेशन जैसे गुण आवश्यक हैं।

खास बात है कि साइंस कॉमर्स मानविकी विषयों की पृष्ठभूमि से आने वाले छात्रों के लिए भी इसमें कैरियर बनाने के मौके होते हैं। आप इक्विटी एडवाइजर या रिलेशनशिप मैनेजर आदि के तौर पर कैरियर की शुरुआत कर सकते हैं। अनुभव हासिल करने के बाद रजिस्टर इन्वेस्टमेंट एडवाइजर आदि के रूप में काम कर सकते हैं।

 

स्किल और टेक्नोलॉजी की बढ़ रही है अहमियत

कई फाइनेंसियल कंपनी विभिन्न पृष्ठभूमि वाले पेशेवरों को भर्ती करते हैं। टेक्नोलॉजी और नए स्किल के साथ अगर आपके पास एप्टिट्यूड है तो आपको डिग्री से कहीं ज्यादा फायदा मिलेगा। फाइनेंस या बिजनेस में डिग्री से आपकी शुरुआत अच्छी हो सकती है, लेकिन स्किल और अनुभव आपको आगे ले जायेंगे। अगर आपके पास फाइनेंस में डिग्री नहीं है तो आपके लिए क्षेत्र में आगे बढ़ने के भरपूर अवसर है। स्टॉक मार्केट इकोसिस्टम और विधिवत ट्रेडिंग ज्ञान प्राप्त करने के बाद आप अपने मुताबिक राह बना सकते हैं।

 

शैक्षणिक योग्यता

स्टॉक मार्केट ट्रेडिंग से जुड़े शॉर्ट टर्म कोर्सेज के लिए खास डिग्री की आवश्कता नहीं होती है। यह कोर्सेज नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ सिक्योरिटीज मार्केट(एनआईएसएम) नेशनल स्टॉक एक्सचेंज सर्टिफिकेशन ऑफ फाइनेंसियल मार्केट से मान्यता प्राप्त होते हैं।इन कोर्सेज के लिए भारतीय कैपिटल मार्केट की आधारभूत समझ आवश्यक है। एनआईएसएम/ एनसीएफएम सर्टिफिकेशन के बाद कैपिटल मार्केट में विभिन्न स्तरों पर जॉब प्राप्त कर सकते हैं। एमबीए फाइनेंस या कैपिटल मार्केट के बाद आप फाइनेंशियल मार्केट, कॉरपोरेट फाइनेंस या पोर्टफोलियो मैनेजमेंट विशेषकर एक्विटी, ब्रांड, फॉरेन, एक्सचेंज समेत मार्केट के विविध पहलुओं से वाकिफ हो जाते हैं।

जिसके कारण आपको जॉब लेने में आसानी होती है।

 

नोट:—हम जिस फील्ड में जाएं पहले उस फील्ड की पूरी जानकारी हमारे पास होनी चाहिए ताकि हमें किसी भी तरह कि परेशानी का सामना नहीं करना पड़े।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *