Amazon

फूड डिलीवरी में स्वीगी और जोमैटो को टक्कर देने के लिए अब Amazon भी आ चुका है। देखना यह है कि कौन किसे टक्कर देगा।

 

दुनिया की जानी मानी ई-कॉमर्स कंपनी Amazon Indian ने भारत में लॉकडाउन के दौरान घर- घर भोजन पहुंचाने के कार्यक्षेत्र में कदम रख दिया है।

इस क्षेत्र में स्थानीय कंपनियां स्वीगी और जौमेटो पहले से शीर्ष स्थान पर है।

Amazon ने हाल ही में भारत में अपने कारोबार को और बढ़ाने के लिए 6.5 अरब डॉलर का निवेश किया है। फूड डिलीवरी सेवा के क्षेत्र में Amazon फूड के नाम से बेंगलुरु में शुरुआत हुई।

कंपनी के कर्मचारी शहर के चुने हुए रेस्टोरेंट के साथ मिलकर फूड डिलीवरी सेवा का अनुभव ले रहे हैं। वैसे कंपनियां पिछले साल ही इसकी शुरुआत करने वाली थी।

कंपनी के प्रवक्ता ने बताया कि ग्राहकों की ओर से यह मांग काफी दिनों से की जा रही थी। वे ग्रोसरी सामानों के साथ ही तैयार भोजन के लिए भी आर्डर Amazon में देना चाहते हैं।मौजूदा समय में जब लोग घर पर रह रहे हैं। यह काम शुरू करना उपयुक्त है। Amazon के इस क्षेत्र में कदम रखने से स्वीगी और जोमैटो जैसी कंपनियां के सामने चुनौतियां खड़ी हो गई है।जोमैटो ने जनवरी में ही इस क्षेत्र की उबेर की इट्स कंपनी का अधिग्रहण किया है।स्वीगी और जोमैटो मिलकर 2 अरब डॉलर का बिजनेस किया है और उसे अभी भी लाभ नहीं मिल पाया है।यह दोनों नये कस्टमर को जोड़ने और पुराने को बनाए रखने के लिए मिलकर 1.5 करोड़ डॉलर हर महीने का नुकसान सह रहे हैं और अब Amazon भी इस क्षेत्र में आ गई है।

जोमैटो और स्वीगी ने कोरोना वायरस संकट के बीच 1600 कर्मचारियों की छंटनी की घोषणा की है।

दोनों कंपनियों ने 10 लाख से भी ऑडर मिलने की संभावना जताई है। जो इस साल के शुरुआती दौर से 30 लाख कम है।इसके अतिरिक्त Amazon ने प्राइम नाउ और Amazon फ्रेश प्लेटफार्म की भी शुरुआत की है।

 

नोट:— अब देखना यह है कि इन तीनों कंपनियों की फूड डिलीवरी को लोग की तरह पसन्द करते है और किसे No.1 बनाते हैं।

Good luck “Zomato, Swiggy and Amazon”

 

 

 

One Comment on “Amazon”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *